संदेश

August 11, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आज के दिन शहीद हुए थे आजादी के सात मतवाले

चित्र
आज के दिन शहीद हुए थे आजादी के सात मतवालेजगतपति कुमार समेत सात नौजवान सचिवालय पर तिरंगा फहराने के दौरान हुए थे शहीद ताजा हुई खुदीराम बोस की शहादत की यादवीरता का बखान कर रहा है पटना का शहीद स्मारक विद्या सागर
पटना। तारीख 11 अगस्त 1942। स्थान पटना सचिवालय। समय भरी दोपहरी, भारत मां को गुलामी की जंजीरों से मुक्त कराने को मतवाले युवाओं की टोली, तिरंगे को फहराने का इरादा लिए जैसे ही पहुंची, वैसे ही बर्बर ब्रिटिश हुकूमत की बंदूकों से गोलियां उगल पड़ी और देखते ही देखते सात नौजवान देश की आजादी की बलिवेदी पर शहीद हो गए। शहीद होते-होते इन्होने हिंदोस्तान की आन-बान-शान तिरंगे को फहरा डाला। शहीदों का मंगलवार को 73 वां शहादत दिवस है तथा इस अवसर पर उन्हें पूरी श्रद्धा के साथ याद किया जायेगा। इन नौजवानों की शहादत के साथ ही 11 अगस्त 1908 की उस घड़ी की यादें ताजी हो गई जब मुज्जफरपुर जेल में इसी आततायी ब्रिटिश सरकार ने जंग ए आजादी के दीवाने क्रांतिकारी खुदीराम बोस को फांसी के तख्त पर लटका दिया गया था। इन शहीदों का नाम आज भी सारा देश इज्जत के साथ लेता है और पटना सचिवालय पर तिरंगा लहराने वाले …