संदेश

February 29, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

धूम्रपान करने वालों की संख्या 36 फीसदी बढ़ी

चित्र
पुरुष धूम्रपान करने वालेां की संख्या में बढ़ोतरी: अध्ययन   विद्या सागर  पटना।भारतमेंपिछले 17 सालों (वर्ष 1998 से 2015 )मेंधूम्रपानकरनेवालोंकीसंख्यामें 36 प्रतिशतकीबढ़ेातरीहुईहै।जोकिबेहदचिंताजनकहै।इसकाखुलासायूनिवर्सिटीऑफटोरंटोकेशोधमेंहुआहै।यहशोधबीएमजेग्लोबलहेल्थजर्नलमेंप्रकाशितहुआहै।दुनिंयाभरमेंधूम्रपानकरनेवालोंकीसंख्याकेमामलेमेंसिर्फचीनहीभारतसेआगेहै। हीलिससेखसरियाइंस्टीटयूटऑफपब्लिकहैल्थकेडायरेक्टरवशोधकर्ताडा. प्रकाशसी.गुप्ताबतातेंहैकिइसअध्ययनमेंसामनेआयाहैकि 1998 सेलेकर 2015 तकधूम्रपानकरनेवालेपुरुषोंकीसंख्यामेंएकतिहाई (तकरीबन 36 फीसदी) बढ़ोतरीहुईहैऔरवर्तमानमेंकरीब 10.8 करोड़पुरुषधूम्रपानकरतेहैं।वंहीदेशभरमेंवर्तमानसमयमेंबीड़ीसेज्यादासिगरेटकाउपयेागकरनेवालोंकीसंख्यामेंभीबढ़ोतरीहुईहै।इसमेंउन्होंनेपायाकि 15 से 69 वर्षकीउम्रमेंधूम्रपान