पटना में भी चिकित्सकों व जांच केन्द्रों के खिलाफ अभियान चलायें सांसद पप्पु

पटना में भी चिकित्सकों व जांच केन्द्रों के खिलाफ अभियान चलायें सांसद पप्पु

विद्या सागर

मधेपुरा के सांसद पप्पु यादव ने चिकित्सकों व जांच केन्द्रों की फिस को लेकर जो मुहिम छेड़ा है वह वास्तव में स्वागत योग्य है। मैं सांसद के इस कदम का स्वागत करता हंु। डाॅक्टरों व जांच केन्द्रों के चक्की में आम लोग पीस रहे हैं। वैसे लोग जिनके पास इलाज कराने को पैसा नहीं है। पटना में किसी भी डाॅक्टर की फिस 500 रूपये से कम नहीं है। कोई भी बिमारी हो डाॅक्टर एक जांच तो जरूर लिखते हैं। डाॅक्टर जिस केन्द्र पर जांच कराने के लिए कहते हैं मजबूरी में मरीजों को वहां जांच कराने जाना पड़ता है। फिर शुरू होता है जांच केन्द्रों के भयादोहन का खेल। कोई भी जांच 500 रूपयेे से कम का नहीं होगा। सांसद के इस प्रयास को चाहिए की सरकार अपने स्तर से करे। निजी जांच केन्द्र पटना ही नहीं बल्कि पुरे बिहार में बिना पंजीयन के चल रहे है। ऐसे जांच केन्द्रो पर छापेमारी कर सरकार इसे बंद करे और उनके संचालकों को जेल भेजे। ताकि मध्यम व गरीब वर्ग के लोग इनके भैया दोहन से बचे। पटना में तो ऐसी स्थिती है कि निजी चिकित्सा केन्द्रों में ईलाज कराना मुष्किल हो गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

आज के दिन शहीद हुए थे आजादी के सात मतवाले

भारत छोड़ों आंदोलन के दौरान 11 अगस्त को शहीद हुए थे जगतपति कुमार समेत आजादी के सात मतवाले,

सेक्स और शादी...क्या-क्या नियम बना रखे हैं नक्सलियों ने